Indian News : ओटावा। कनाडा के सहयोगी देश 18 जून को सरे में कनाडाई नागरिक हरदीप सिंह निज्जर की हत्या में भारतीय एजेंटों के शामिल होने के आरोपों को लेकर दोनों देशों के बीच बढ़ते विवाद से दूरी बनाये हुये हैं। अधिकांश आरोप को ऐसे मामले के रूप में देख रहे हैं जिसकी अभी भी जांच की जानी है – इस तथ्य के बावजूद कि ट्रूडो सरकार को लगता है कि उसके पास संसद में आरोप लगाने और एक राजनयिक को निष्कासित करने के लिए पर्याप्त जानकारी है।

Loading poll ...

अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने मंगलवार को कहा, “यह निश्चित रूप से गंभीर आरोप है। हमारा मानना है कि यह कितना विश्वसनीय है, यह निर्धारित करने के लिए गहन जांच की जरूरत है।” किर्बी ने कहा, “प्रधानमंत्री ट्रूडो ने ये आरोप लगाये हैं, और इसलिए हम देखेंगे कि कनाडा इस पर कैसे आगे बढ़ता है। ऐसा करना निश्चित रूप से उनकी क्षमता के भीतर है, और हम भारत से भी उस जांच में भाग लेने और सहयोग करने का आग्रह करते हैं। यह पता लगाना महत्वपूर्ण है कि वास्तव में क्या हुआ था।

Read More <<<आज संसद के विशेष सत्र का तीसरा दिन, आइये जानते है आज राज्यसभा में क्या – क्या होगा…. Parliament Session 2023

फाइव आइज़ (एफवीईवाई) एक ख़ुफ़िया गठबंधन है जिसमें ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, न्यूज़ीलैंड, ब्रिटेन और अमेरिका शामिल हैं। ब्रिटेन के विदेश सचिव जेम्स क्लेवरली ने एक एक्‍स पर एक पोस्‍ट किया जिसमें भारत का कोई जिक्र नहीं था। उन्‍होंने लिखा, “सभी देशों को संप्रभुता और कानून के शासन का सम्मान करना चाहिए। हम कनाडाई संसद में उठाए गए गंभीर आरोपों के बारे में अपने कनाडाई सहयोगियों के साथ नियमित संपर्क में हैं। महत्वपूर्ण है कि कनाडा की जांच अपना काम करे और अपराधियों को न्याय के कटघरे में लाया जाए।” कनाडाई मीडिया आउटलेट की रिपोर्ट के अनुसार, कनाडा के सहयोगियों के लिए, यह आरोप दुनिया के सबसे अधिक आबादी वाले देश को अलग-थलग करने का जोखिम पेश करता है, जबकि वे ऐसा कम से कम करना चाहते हैं।

Read More <<<कलेक्ट्रेट पहुुंचकर ग्रामीण ने नुकसान फसलों का मुआवजा देने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन | Madhya Pradesh

@indiannewsmpcg

Indian News

7415984153

Read More <<<पुलिस ने 7 गांजा तस्करों को किया गिरफ्तार, 17 लाख का गांजा बरामद |

Leave a Reply

You cannot copy content of this page