Indian News : पलायन रोकने के लिए बिहार सरकार कितने भी दावे कर ले, लेकिन सब खोखले नजर आ रहे हैं. बिहार कई सालों से पलायन की मार झेल रहा है. यहां के युवा रोजगार की तलाश में बिहार से दूसरे राज्यों में जाते हैं क्योंकि बिहार में रोजगार मिलना उनके लिए सबसे ज्यादा मुश्किल होता है. मामला बिहार के कटिहार का है जहां नौकरी की तलाश में चंडीगढ़ गए एक शख्स की एक्सीडेंट में मौत हो गई और घर पर उसकी आर्थी उस दिन पहुंचती है जिस दिन मृत युवक के बहन की शादी होती है. भाई की मरने से शादी की खुशियां मौत के मातम में बदल गईं, जिस घर से बहन की डोली उठने वाली थी उसी घर से भाई की अर्थी उठानी पड़ी |

मामला बिहार के कटिहार के हसनगंज प्रखंड का है. हसनगंज के पोखरिया गांव में रहने वाले वरुण नाम के एक युवक की सड़क हादसे में मौत हो गई. वरुण नौकरी की तलाश में चंडीगढ़ गया था जहां एक अनियंत्रित ट्रक वरुण से टकरा गया और उसकी मौत हो गई. इस दुखद हादसे में वरुण के साथ एक और शख्स बुरी तरह से घायल हो गया. दुर्घटना में घायल दूसरा शख्स बिहार के पूर्णिया जिले का बताया जा रहा है. दूसरा शख्स फिलहाल जिंदगी और मौत की लड़ाई लड़ रहा है. वरुण की अर्थी उसके घर उसी दिन पहुंचती है जिस दिन उसकी चचेरी बहन की शादी होती है. शादी के कार्यक्रम को बीच में रोककर परिवार और गांव वालों ने वरुण की अर्थी को कंधा दिया.

इस दुखद हादसे से सिर्फ घरवालों को भी धक्का नहीं लगा बल्कि पूरे गांव की आंखों में आंसू दिखाई देने लगें. आपको बता दें कि अर्थी घर से निकलने के बाद शादी की बाकी रस्में पूरी की गई और दूल्हा-दुल्हन को विदा किया गया |

@indiannewsmpcg

Indian News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page