Indian News

युवा शक्ति का प्रतीक भारत, आज विश्व पटल पर अपना परचम लहरा रहा हैं। युवा, हर देश की धड़कन के रूप में स्थापित हैं। भारत में युवाओं के प्रेरणा स्रोत है स्वामी विवेकानंद , उनकी जयंती के उपलक्ष पर एनएसएस बीआईटी दुर्ग ने विवेकानंद यूथ सर्कल के साथ मिलकर निबंध लेखन एवं भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया।

स्वामी विवेकानंद के जीवन एवं उनकी बातों से युवाओं को बहुत कुछ सीखने को मिलता है। इसी उद्देश्य के साथ एनएसएस बीआईटी दुर्ग एवं विवेकानंद यूथ ने १२ जनवरी से २३ जनवरी तक युवा सप्ताह मनाया। इस सप्ताह में १९ जनवरी को भाषण प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। निबंध लेखन का आयोजन २० जनवरी को हुआ।

प्रतियोगिता में युवाओं ने भाग लेकर अपनी योग्यता का प्रणाम दिया। इसी क्रम में २३ जनवरी को नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती के उपलक्ष पर दोनों प्रतियोगिता के विजेताओं को पुरस्कृत किया गया। नेताजी ने देश के युवाओं में आज़ादी की आग प्रज्वलित की थी। नेताजी आज भी युवाओं के लिए बहुत बड़े आदर्श हैं।

पुरस्कार समारोह में सीएसवीटीयू के वॉइस चांसलर एम. के. वर्मा एवं बीआईटी दुर्ग के प्राध्यापक एम. के. गुप्ता अतिथि के रूप में उपस्थित थे। सभी विजेताओं एवं प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम का समापन विवेकानंद युवा मंडल अध्यक्ष कुमार विक्रांत मिश्रा द्वारा धन्यवाद ज्ञापन के साथ हुआ।
युवा सप्ताह को लेकर सभी युवाओं में अलग ही जुनून एवं लगन थी। एनएसएस बीआईटी दुर्ग एवं विवेकानंद यूथ सर्कल के सभी स्वयंसेवकों ने आयोजन को सफल बनाने में अपना योगदान दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page