Indian News : बिलासपुर के प्राइवेट हॉस्पिटल में आयुष्मान भारत योजना में गड़बड़ी सामने आ रही है। यहां कई हॉस्पिटल में मरीज को भर्ती किए बिना ही बिल बना लिया गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम निरीक्षण में पहुंची, तब फर्जीवाड़ा सामने आया है। प्रारंभिक जांच के बाद गड़बड़ी करने वाले श्रीराम हॉस्पिटल प्रबंधन को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है।

नर्सिंग होम एक्ट के नोडल अधिकारी डॉ. मनीष श्रीवास्तव ने आयुष्मान भारत योजना की टीम के साथ प्राइवेट अस्पतालों का निरीक्षण कर रहे हैं। शुक्रवार को टीम तेलीपारा स्थित श्रीराम हॉस्पिटल पहुंची। टीम ने अस्पताल में मरीजों के उपचार के संबंध में जरूरी संसाधनों की जानकारी ली। इस दौरान अस्पताल प्रबंधन से भी बातचीत की गई। इसके साथ अस्पताल स्टॉफ से भी पूछताछ की गई।

आयुष्मान भारत योजना में मिली कई गड़बड़ी


टीम ने इलाज कराने पहुंचे मरीजों से पूछताछ की। इसके बाद आयुष्मान भारत योजना के दस्तावेजों को चेक किया, जिसमें कई तरह की गड़बड़ियां मिली। टीम ने इसकी जानकारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (CMHO) डॉ. अनिल श्रीवास्तव को दी। CMHO डॉ. श्रीवास्तव के निर्देश पर श्रीराम हॉस्पिटल प्रबंधन को नोटिस जारी कर इस संबंध में जानकारी देने के लिए कहा गया है। निरीक्षण में नोडल अधिकारी डॉ. मनीष श्रीवास्तव के साथ डॉ. सौरभ शर्मा, नवसाद अहमद, आयुष्मान योजना के अधिकारी और स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी मौजूद रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page