Indian News : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज दल्लीराजहरा के सिटिजन क्लब में जिलाधिकारियों की समीक्षा बैठक लेकर योजनाओं की समीक्षा की और अधिकारियों को महत्वपूर्ण निर्देश दिए । उन्होंने कहा कि अधिकारी अपने दायित्वों का कुशलतापूर्वक निर्वहन करें । जिले में शिक्षा और स्वास्थ्य की व्यवस्थाएं बेहतर हो, पंचायती राज प्रतिनिधियों को उनका अधिकार मिले।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जनता की बेहतरी के लिए प्राथमिकता से कार्य करें, किसी तरह की शिकायत का अवसर न दें। उन्होंने नगर पंचायत डौंडीलोहारा में टेंडर प्रक्रिया को पारदर्शी बनाने के निर्देश दिए । सड़क दुर्घटना को रोकने बालोद मार्ग  पर जुझारा नाला के पास स्पीड ब्रेकर और संकेतक लगाने के निर्देश भी दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि शाला भवनों  का समय पर मरम्मत किया जाए इसके लिए राज्य स्तर पर 500 करोड़ रुपए जारी किए हैं। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिले। स्कूलों में  आधारभूत संसाधन पर्याप्त हो।

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि मध्यान्ह भोजन भी मीनू के अनुसार ही बनाएं। स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल आज छत्तीसगढ़ की पहचान बन चुकी है ,यहां गरीब बच्चों के प्रवेश में नियमों का पालन करते हुए उन्हें प्रवेश दें। मुख्यमंत्री ने कहां की लॉटरी सिस्टम से ही प्रवेश दिया जाए। अंचल में मिली शिकायतों के आधार पर अघोषित बिजली कटौती की स्थिति पर लगाम लगाने के निर्देश दिए हैं ।मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकारी आम जनता  के कार्यों को प्राथमिकता से करें। स्थानीय नगर पालिका प्रशासन को नगर में  आवश्यक साफ सफाई करने के निर्देश दिए गए।  उन्होंने कहा कि जो कार्य जनता की आवश्यकता को पूर्ण करें ,उसे समय पर पूर्ण करें।

इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंड़िया, मुख्यमंत्री के सचिव अंकित आनंद, कमिश्नर महादेव कांवरे, कलेक्टर गौरव सिंह एवं जिला अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page