Indian News : दुर्ग । कलेक्टर पुष्पेंद्र कुमार मीणा ने रिसामा स्कूल में बच्चों के साथ मध्याह्न भोजन ग्रहण किया। कलेक्टर ने कहा, खाना तो स्वादिष्ट है ही बच्चों, आपके साथ बैठकर खाना अच्छा लग रहा है। उन्होंने बच्चों की किताब से उनसे प्रश्न पूछे और बच्चों की पढ़ाई से संतुष्टि जाहिर की। उन्होंने जिले के ग्रामीण क्षेत्रों का दौरा भी किया गया। उन्होंने चंदखुरी गौठान का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान गाय को रखने के लिए शेड निर्माण करने के निर्देश दिए। चर्चा के दौरान समूह की महिलाओं ने बताया कि गाय 10 से 14 लीटर दूध देती है।

मिल्क पार्लर में दूध बेचा जाता है। पशु आहार के संबंध में कलेक्टर ने कहा कि गाय के रख-रखाव के लिए बढ़िया चारा जरूरी है। गाय के लिए शेड निर्माण किया जाए, जिसमें शेड के उपर पैरा डालकर स्प्रिंकल लगाया जाए ताकि गाय को आराम मिल सके। गौठान में समूह की महिलाओं ने बताया कि उन्होंने 3 लाख 80 हजार का केचुवा व 5 लाख 42 हजार का खाद बेचा है। इसके अलावा लावारिस पशु को रखने के लिए अलग जगह बनाई गई है। कलेक्टर ने समूह की महिला से पूछा कि वर्मी कम्पोस्ट बेचकर मुनाफे का क्या किया तो महिला ने बताया लड़के की शादी की।

इसी दौरान गिरदावरी के दौरान बाड़ी देखकर कलेक्टर ने प्रसन्नता जाहिर किया। उन्होंने समूह से बाड़ी के बारे में जानकारी ली। इस पर सुनीता ने बताया कि 25 से 30 क्विंटल भिंडी उत्पादित होती है और 6300 रुपये महीने की कमाई होती है। इस माह में समूह ने अब तक 15 हजार रूपए की बिक्री की है। कलेक्टर ने सुनीता की तारीफ करते हुए कहा बहुत अच्छा काम किया है। इसके अलावा कलेक्टर ने रिसामा के गौठान में डेयरी व्यवसाय शुरू करने के निर्देश दिए। ताकि दूध के उत्पादन से समूह की महिला को मुनाफा हो। इसके अलावा गौठान में मुर्गी पालन का कार्य देखकर समूह की महिला सोनाली से मुर्गी के बिक्री के बारे में जानकारी ली। सोनाली ने बताया 300-350 प्रति मुर्गी के हिसाब से मुर्गी बेची जाती है। कलेक्टर ने 1 हजार से 2 हजार क्षमता वाले मुर्गी शेड के निर्माण के लिए निर्देशित कियाताकि ज्यादा मात्रा में मुर्गी पालन किया जा सके।

मचांदुर में गौठान का निरीक्षण के दौरान बटेर पालन के बारे में जानकारी ली। सरपंच ने अभी तक बटेर के 750 अंडे बेचे हैं। इसके अलावा 8 एकड़ में बाड़ी लगाई गई है। गौठान से 5 लाख 57 हजार का गोबर व 7 लाख का खाद बेचा गया जिसमें समूह की प्रत्येक महिला 20 हजार रूपए का लाभ हुआ। गौठान में ही 2 बुजुर्गों द्वारा पेंशन न मिलने की शिकायत की गई जिसपर कलेक्टर ने त्वरित कार्यवाही के निर्देश दिए।

स्वास्थ्य केन्द्र का निरीक्षण- प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र मचांदूर का निरीक्षण किया गया। जिसमें कलेक्टर ने स्वच्छता पर ज्यादा ध्यान देने के निर्देश दिए। लैब तकनिशियन की मांग जल्द पूरी की जाएगी।

स्कूल का निरीक्षण – कलेक्टर ने शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला को मॉडल स्कूल बनाने के निर्देश दिए। शाला की तारीफ करते हुए बच्चों से बातचीत की। स्कूल का रख-रखाव देखकर स्कूल की तारीफ की और आदर्श स्कूल बनाने के निर्देश दिए। आदर्श स्कूल में बच्चों को सभी प्रकार की सुविधा दी जाएगी। यहां पर बच्चों के साथ स्कूल में मध्यान भोजन भी किया। स्कूल के खाने की तारीफ भी की। कलेक्टर ने बच्चों के साथ चावल, दाल, अचार, पापड़ खाया। रिसाली के स्वामी आत्मानंद स्कूल का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान सभी कक्षाओं का मुआयना किया और बच्चों से बातचीत की। बच्चों ने प्रेक्टिकल के बारे में बताया सप्ताह में 2 दिन प्रेक्टिकल कराया जाता है और कहा कि किसी प्रकार की परेशानी नहीं है।

नगर पंचायत का निरीक्षण-  नगर पंचायत उतई का निरीक्षण किया गया। जिसमें कलेक्टर ने नगर पंचायत के कार्यालय का निरीक्षण किया और स्वच्छता पर ध्यान देने कहा। पुराना जितना कबाड़ है नीलाम करने के निर्देश दिये। निरीक्षण के दौरान सीईओ जिला पंचायत अश्वनी देवांगन, अधिकारी एवं कर्मचारीगण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page