Indian News : छत्तीसगढ़ में बस्तर कमिश्नर श्याम धावड़े ने बीजापुर जिले में बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा लिया है। बाढ़ की चपेट में आकर बेघर हुए ग्रामीणों से मुलाकात की। जिन किसानों के पशु, खेती, मकान का नुकसान हुआ है उनका सर्वे कर उन्हें जल्द मुआवजा देने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। साथ ही एक गांव में बन रही सड़क और पुल निर्माण की गुणवत्ता को देख अफसरों को फटकार लगाई। साथ ही जांच के निर्देश दिए हैं। आश्रम का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया है।

बस्तर कमिश्नर श्याम धावड़े ने गंगालूर सड़क पर बाढ़ के पानी से क्षतिग्रस्त हुए पोंजेर नाला के पुल को बनवाने के निर्देश अफसरों को दिए हैं। यह गंगालूर क्षेत्र को जोड़ने वाली मुख्य सड़क है इसीलिए कमिश्नर ने नाला में पुल का निर्माण ऊंचाई देकर बनाने को कहा है। पोंजेर नाला के पास में स्थित जवानों के कैंप के पास रिटर्निंग वाल बनाने के संबध में चर्चा किए। इसके अलावा भोपालपटनम में NH-63 का भी जायजा लिया। इस मार्ग में चिंताबागू नदी में मिलने वाले कोड़ेपाल नाला, मोदकपाल नाला में बाढ़ के पानी से टूटे पुलों का जायजा लिया।

पेगड़ापल्ली आश्रम का किया निरीक्षण

कमिश्नर ने बाढ़ में डूबे पेगड़ापल्ली आश्रम का निरीक्षण कर बच्चों को दी जा रही सुविधाओं का जायजा लिया। आश्रम में बच्चों के बाढ़ में भीगे तखत, बेड, गद्दे को धूप में सुखवाने के निर्देश दिए। कमिश्नर ने बच्चों को दी जा रही भोजन व्यवस्था का निरीक्षण किया। जिसमें कुछ कमियां पाई गईं। अधीक्षक और सरपंच को व्यवस्था में सुधार करवाने को कहा। उन्होंने खाना बनाने वाली महिला स्व सहायता समूह की महिलाओं से चर्चाकर सप्ताह के मीनू के आधार पर भोजन देने के निर्देश दिए।

दम्पाया सड़क-पुल निर्माण करने वाले के खिलाफ कार्यवाही के निर्देश

बाढ़ से क्षतिग्रस्त दम्पाया सड़क-पुल का काम ठीक से नहीं हो रहा है। उसके निर्माण में लापरवाही बरती जा रही है। इसके लिए कमिश्नर ने मुख्य कार्यपालन अधिकारी को जांच कर कार्यवाही करने को कहा। कमिश्नर ने निरीक्षण के दौरान पाया कि पुल निर्माण में तकनीकी खामी और निर्माण में लोहे के छड़ का उपयोग नहीं किया गया है। पुल से संबंधित निर्माण एजेंसी और ठेकेदार के खिलाफ कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page