Indian News : बालोद | जिले के डौंडीलोहारा थाना क्षेत्र में पुलिस के एक आरक्षक को गांववालों ने जमकर पीटा। मामला ग्राम जुनवानी का है, जहां आरक्षक रमेश यादव को ग्रामीणों ने एक महिला के साथ संदिग्ध हालत में पकड़ लिया। अवैध संबंधों के शक में लोगों ने उसकी खूब पिटाई की। ग्रामीणों ने आरक्षक को बंधक बना लिया और उसे गांव के मंच पर बिठाकर रखा।

कुछ लोगों ने इस बात की जानकारी पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने बहुत ही मुश्किल से आरोपी रमेश यादव को गांववालों से छुड़ाया। गांववाले पुलिस की मौजूदगी में भी उसके साथ मारपीट करने की कोशिश करते रहे। आक्रोशित ग्रामीण उसे छोड़ने को तैयार नहीं थे। उन्होंने आरोप लगाया कि आरक्षक का गांव की ही शादीशुदा महिला से अवैध संबंध है और दोनों ने यहां का माहौल खराब करके रखा है। पुलिस ने जब आरक्षक को गांव से ले जाने की कोशिश की, तो लोगों ने जमकर हंगामा किया। इस दौरान पुलिस और ग्रामीणों के बीच धक्कामुक्की भी हुई।

गांववालों ने कहा कि जैसे ही महिला का पति और बच्चे घर से चले जाते हैं, वैसे ही आरोपी आरक्षक उसके घर में आ जाता है और दोनों गलत काम करते हैं। इसे लेकर दिनभर हाईवोल्टेज ड्रामा चलता रहा। बाद में पुलिस ने जैसे-तैसे लोगों को समझाया और आरोपी आरक्षक रमेश यादव को गिरफ्तार कर लिया। शुक्रवार शाम उसे कोर्ट में पेश किया गया, जहां से न्यायिक हिरासत में आरोपी को जेल भेज दिया गया।

कल देर शाम SP जितेंद्र यादव ने आरोपी आरक्षक रमेश यादव को सस्पेंड कर दिया है। लोहारा थाना प्रभारी तुल सिंह पट्टावी ने कहा कि आरोपी आरक्षक दल्लीराजहरा का रहने वाला है और डौंडीलोहारा थाने में पदस्थ है। आरक्षक के खिलाफ लोहारा थाने में धारा 354 और 452 के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया है।

गांववालों ने बताया कि कुछ दिनों से आरक्षक शादीशुदा महिला के घर आना-जाना करता था, इसे लेकर उसे पहले भी चेतावनी दी गई थी, लेकिन वो नहीं माना। इस बार गांववालों ने उसे रंगे हाथों पकड़कर उसकी पिटाई कर दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page