Indian News : कोरबा जिले के एक युवक की लाश सारंगढ़-बिलाईगढ़ जिले में महानदी के किनारे मिली है। युवक मूल रूप से कोरबा के बुधवारी स्थित कांशीनगर का रहने वाला था। शव के गले पर चोट के निशान मिले हैं। वहीं उसका चेहरा भी जला हुआ है। परिजनों ने हत्या की आशंका जताई है। मृतक का नाम लिनेश साहू (35 वर्ष) था।

लिनेश साहू (35 वर्ष) कुछ सालों से अपनी पत्नी के साथ रायगढ़ जिले के खरसिया में रह रहा था। वो वहां कारपेंटर था। वो कुछ दिन पहले अपने माता-पिता के घर कोरबा के कांशी नगर आया हुआ था। रविवार की सुबह लिनेश किसी काम से अपनी बाइक पर सक्ती जिला जाने के लिए निकला था। इसके बाद से वो वापस घर नहीं लौटा। उस दिन से उसका मोबाइल भी स्विच ऑफ आ रहा था। लिनेश के माता-पिता ने बहू को खरसिया फोन लगाकर बेटे के बारे में पूछा, लेकिन उसने बताया कि वो वहां भी नहीं पहुंचा है। परेशान परिजनों ने रिश्तेदारों के यहां भी तलाश की, लेकिन लिनेश का कोई पता नहीं चला।

बुधवार को सारंगढ़ पुलिस को छर्रा गांव के सरपंच ने सूचना दी कि महानदी के किनारे एक अज्ञात शख्स की लाश पड़ी है। सूचना मिलते ही पुलिस टीम दल-बल के साथ मौके पर पहुंची। पुलिस ने नदी किनारे पानी में पड़ी हुई लाश को बाहर निकलवाया। लाश पानी में रहने के कारण फूल गई थी। उसकी शर्ट के पॉकेट से आधार कार्ड मिला, जिससे मृत युवक की पहचान हो सकी। इसके बाद पुलिस ने जांजगीर-चांपा जिले की बाराद्वार पुलिस से संपर्क किया। इसके बाद कोरबा में रहने वाले उसके परिवार को सूचना दी गई। मृतक के परिजन कोरबा से सारंगढ़ पहुंच चुके हैं।

लिनेश के भाई चंद्रचूड़ा साहू का कहना है कि उसके भाई का चेहरा जला हुआ है। शव पर धारदार हथियार से वार करने के भी निशान दिखाई दे रहे हैं। उसने बताया कि उसके भाई का पैसों के लेनदेन को लेकर विवाद चल रहा था और इसलिए उसकी हत्या की गई है। फिलहाल पुलिस जांच में जुट गई है और परिजनों और मृतक के जान पहचान के लोगों के बयान दर्ज किए जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page