Indian News : कोरिया । कोरिया जिला अस्पताल द्वारा एक्सपायरी बताकर दवाओं को फेंकने पर स्वास्थ विभाग की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़ा हो गया है. जिसके बाद ड्रग विभाग के अधिकारियों के जांच दल के द्वारा मिट्टी में दबाई गई दवाओं की खुदाई कराई गई. खुदाई के बाद में निकल रही दवाओं के देख ड्रग विभाग के अधिकारी भी हैरान हैं. इन दवाओं में बेहद संवेदनशील दवा डाइजापाम के इंजेक्शन काफी मात्रा में मिले हैं. इसी तरह करीब 70 प्रकार की जीवन रक्षक दवाइयां खुदाई में निकलने की बात सामने आई है.

खुदाई के बाद निकला दवाइयों का जखीरा: जीवन रक्षक मानी जानी वाली दवाइयां, जिन्हें नियम विरुद्ध तरीके से फेंक दिया गया था, उसे प्रभावित रोगियों को मिलना चाहिए था. उसे यूं ही फेंक दिया गया था. ऐसा नहीं है की कोरिया जिले में पहली बार ऐसा हुआ हो. पहले भी कई बार दवाई और अन्य जरूरी सामानों को खुले में फेंक दिया गया था. बार बार हो रही इस तरह की घटनाओं के बाद कार्रवाई ना होना, जिला प्रशासन को कटघरे में खड़ा कर रहा है.

एक्सपायरी बता फेंक दी गई दवाईयां: ड्रग विभाग के अधिकारी का कहना है कि “कल खुदाई कर सारी दवाईयां निकाल ली गई है. सभी दवाईयों को व्यवस्थित कर संबंधित कंपनियों को पत्र लिखकर जानकारी ली जाएगी कि कितनी मात्रा में कहां कहां और कितनी दवाईयां सप्लाई की गई है. जवाब मिलने पर पूरी जांच कर कार्रवाई की जाएगी.”

@indiannewsmpcg

Indian News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page