Indian News : बिलासपुर में जगह-जगह सट्टापट्‌टी लिखने वाले 7 सटोरियों को एंटी क्राइम एंड साइबर यूनिट (ACCU) की टीम ने गिरफ्तार किया है। उनके पास से मोबाइल, सट्‌टापट्‌टी और नकदी रुपए भी बरामद किया गया है। दरअसल, पिछले कुछ दिनों से शहर के चौक-चौराहों में सट्‌टेबाज सक्रिय हो गए हैं, जिस पर रोक लगाने के लिए ACCU की टीम कार्रवाई कर रही है। हालांकि, इस कार्रवाई में खाईवालों के एजेंट ही पकड़ में आ सके।

पिछले कुछ दिनों से सरकंडा और सिविल लाइन क्षेत्र में सटोरिए चौक-चौराहों में सक्रिय हो गए हैं, जिस पर SSP पारुल माथुर ने एंटी क्राइम एंड साइबर यूनिट की टीम को सटोरियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए। इसके बाद ACCU प्रभारी हरविदंर सिंह ने अपनी टीम सरकंडा इलाके में लगाया और सटोरियों पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

पहले ही दिन पकड़े गए सात सटोरिए


ACCU प्रभारी हरविंदर सिंह ने बताया कि शुक्रवार को उनकी टीम ने सरकंडा क्षेत्र के अलग-अलग जगहों पर दबिश दी, जहां सट्टापट्टी लिखते हुए 7 सटोरिए पकड़े गए। जिन सटोरियों को पकड़ा है उनमें मोपका के विवेकानंद नगर निवासी अजय कालरा (52), लिंगियाडीह के शरद यादव (28), लिंगियाडीह के ही कृष्णा वर्मा (45), बंधवापारा के राज वैरागी (25), बसोड़ मोहल्ला निवासी विक्की बंसोड़ (25), चांटीडीह के श्याम यादव (40) और विजय केंवट (26) शामिल हैं। उनके पास से पुलिस ने सात मोबाइल, 24 हजार 770 रुपए, सट्टापट्टी जब्त की है। सभी के खिलाफ जुआ एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है।

सिविल लाइन में निगरानी बदमाश बना खाईवाल


सिविल लाइन क्षेत्र में कुदुदंड के निगरानी बदमाश भी सट्‌टा खिला रहा है। वह अपने गैंग के युवकों को अलग-अलग चौक-चौराहों में बैठा रहा है। उसके गुर्गे दूसरे सट्‌टेबाजों के एजेंटों के साथ मारपीट भी कर रहे हैं। बीते दिनों इमलीपारा में बदमाशों ने इसी विवाद को लेकर झगड़ा भी किया था।

चर्चित खाईवाल अभी भी पकड़ से बाहर


प्रभारी हरविंदर सिंह ने बताया कि जुआ-सट्टा खेलने व खिलाने वालों पर लगातार कार्रवाई की जाएगी। इसमें पुराने खाइवालों की भी जानकारी जुटाई जा रही है। उन्होंने अपनी टीम को सट्‌टा लिखने वाले एजेंटों के साथ उनके खाईवालों को भी पकड़ने के निर्देश दिए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page