Indian News : देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने मन की बात कार्यक्रम में जिले के गौरेला में स्थित मां कल्याणिका पब्लिक स्कूल के बच्चों से मन की बात करेंगे बच्चों को शिक्षा के महत्व तथा अन्य बातों को ग्रहण करने का देंगे मूल मंत्र देंगे जिसके लिए प्रबंधन के द्वारा तैयारी की जा रही है। तो बच्चे काफी उत्साहित है। तो जेसीसीजे के प्रदेश अध्यक्ष ने ट्वीटर हैंडल में भी इस बात को शेयर किया है ।

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हर रविवार को देश के समसामयिक विषयों पर अपने कार्यक्रम”मन की बात”में चर्चा करते है। इस रविवार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्कूली छात्र छात्राओं से अपनी मन की बात को साझा करेंगे। प्रधानमंत्री करीब दस स्कूलों के बच्चो से शिक्षा को लेकर चर्चा करेंगे और उन्हें मार्गदर्शन देंगे।महत्वपूर्ण बात तो यह है कि प्रधानमंत्री कार्यालय के द्वारा जिन स्कूलों का चयन किया गया है उंसमे गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले के गौरेला में स्थित मां कल्याणिका पब्लिक स्कूल भी शामिल है। स्कूलों के छात्रों को प्रधानमंत्री। से चर्चा करने का मौका मिलेगा ।

ऐसे में छत्तीसगढ़ के एक छोटे से नवनिर्मित जिला स्कूल का नाम चयनित होना गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले के लिए गर्व की बात है वहीं माँ कल्याणिका स्कूल की प्रिंसिपल्स से जब इस बारे में बात की गई तो उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया और अपने आप को बहुत गौरवान्वित महसूस किया है। वही जेसीसीजे के प्रदेश अध्यक्ष ने भी अपने ट्विटर हैंडल में बच्चो से प्रधानमंत्री के मन की बात के लिए चयन किये जाने पर आभार व्यक्त किया कोटा विधायक ने कोटा विधानसभा के दो स्कूल के चयन पर प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त रेणु जोगी ने लिखा कि यह व्यक्तिगत रूप से मेरे लिये बहुत हर्ष का विषय है कि मेरी विधानसभा के इन दो स्कूलों के नाम मन की बात कार्यक्रम में संवाद के लिए शामिल किए गए हैं। दोनों ही संस्था इस इलाके में शिक्षा के क्षेत्र में सराहनीय कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार को भी इनसे सीख लेनी चाहिए, ताकि पूरे छत्तीसगढ़ के बच्चों को उत्कृष्ट शिक्षा मिल सके।


वही इसके अलावा 27 जनवरी को दिल्ली के तालकटोरा इनडोर स्टेडियम में परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी छात्रों का मनोबल बढ़ाने और उन्हें स्ट्रेस फ्री रहने के टिप्स देंगे। इस कार्यक्रम से देश के अन्य राज्यों के बच्चे वर्जुअल माध्यम से जुड़ेंगे। ये कार्यक्रम न सिर्फ बच्चों बल्कि शिक्षकों और अभिभावकों के लिए भी प्रेरणादायक साबित हो रहा है।

@indiannewsmpcg

Indian News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page