Indian News : राजधानी पुलिस ने मंगलवार की रात से गुरुवार की रात 11 बजे तक करीब 48 घंटे में 50 लाेगों से चाकू जब्त किया है। इनमें ज्यादातर 17 से 18 साल के लड़के हैं। किसी ने चाकू जेब में तो किसी ने मोजे में छिपाकर रखा था। इन लड़कों में इक्का-दुक्का को छोड़कर किसी का कोई अपराधिक रिकार्ड नहीं। उनका मोबाइल चेक करने पर पता चला किसी ने इंस्टा में तो किसी ने अपने फेसबुक में चाकू के साथ फोटो वीडियो अपलोड किया है। पुलिस के आला अफसर युवकों से पूछताछ कर रहे हैं।

हालांकि प्रारंभिक पूछताछ में ज्यादातर लड़कों ने बताया कि दूसरों पर रौब झाड़ने और कोई रास्ते में भिड़ जाए तो वे किसी से कम न पड़े इसलिए चाकू लेकर निकलते हैं। इंस्टा और फेसबुक में भी लड़कों ने इस एंग्ल से फोटो अपलोड किया है, जैसे वे किसी को धमकाना चाहते हैं। पुलिस ने लड़कों के खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत कार्रवाई की है।

सभी का रिकार्ड तैयार किया जा रहा है। फिलहाल चाकू के साथ पकड़े गए लड़कों को कोर्ट से जेल भेज दिया गया है, लेकिन अफसरों की प्लानिंग ऐसे युवकों की काउंसिलिंग करवाने की है। जेल से छूटने के बाद उनकी काउंसिलिंग कर उन्हें समझाइश देने की कोशिश की जाएगी कि वे भविष्य में धारदार हथियार लेकर न चलें।

चाकू नहीं मिला तो मोबाइल करेंगे चेक


पुलिस अफसरों ने अब संदिग्ध स्थिति में घूमते मिले लड़कों और युवकों के मोबाइल भी चेक करने की तैयारी की है। अफसरों का कहना है तलाशी के दौरान संदिग्धों से अगर हथियार न मिले तब भी उनका मोबाइल लेकर फेसबुक व इंस्टाग्राम चेक किया जाएगा। ये देखा जाएगा कि उन्होंने किसी भी हथियार के साथ फोटो अपलोड तो नहीं किया है। हथियार के साथ फोटो अपलोड होने पर उनके खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी। उनके घर छापेमारी कर हथियार जब्त किया जाएगा।

इसलिए चलाया जा रहा अभियान


शहर में पिछले दो-तीन महीनों में चाकूबाजी की घटनाएं खासी बढ़ गईं हैं। छोटी छोटी बात पर कम उम्र के लड़के चाकू से हमला कर रहे हैं। लूट की वारदातों में भी इजाफा हुआ है। बेहद कम कीमत वाले मोबाइल लूटने के लिए चाकू से हमला कर लोगों की जिंदगी खतरे में डाली जा रही है। इसी वजह से पुलिस ने कुछ दिनों से शहर में चाकूबाजी रोकने जांच अभियान छेड़ा है।

शहर में रोज शाम अचानक छापे और जांच


शहर के हर थानों की टीम पिछले एक हफ्ते से रोज शाम अचानक अपने अपने क्षेत्र के संदिग्ध ठिकानों पर दबिश देकर वहां मौजूद लड़कों और युवकों की जांच की जा रही है। इसी दौरान हथियार के साथ कम उम्र के लड़के पकड़े जा रहे हैं। बंद मकानों में अड्डेबाजी करने वालों को भी खदेड़ा जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page