Indian News : जशपुर जिले की सन्ना तहसील में बुधवार को गांववाले एक शव का पोस्टमॉर्टम कराने के लिए इधर से उधर 100 किलोमीटर तक भटकते रहे। सन्ना तहसील के चंपा गांव के रहने वाले लालचंद राम (50 वर्ष) की मंगलवार को तालाब में डूबकर मौत हो गई थी। सन्ना पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू की, लेकिन मंगलवार सुबह से लेकर बुधवार दोपहर तक ग्रामीण का पोस्टमॉर्टम नहीं हो सका।

बुधवार दोपहर बाद किसी तरह पोस्टमॉर्टम हुआ, तब जाकर ग्रामीण का अंतिम संस्कार किया जा सका। दरअसल सन्ना में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तो है, लेकिन अभी तक डॉक्टर की नियुक्ति नहीं हो पाई है। इससे न तो यहां के लोगों को इलाज मिल पा रहा है और न तो मौत के बाद पोस्टमॉर्टम ही हो पा रहा है। लालचंद राम की मौत के बाद सबसे पहले उसके परिजन शव के पोस्टमॉर्टम के लिए सन्ना प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे, तो उन्हें वहां से बगीचा जाने को कह दिया गया। उस पर भी मुसीबत ये है कि यहां कोई शव वाहन नहीं है।

शव वाहन भी 50 किलोमीटर दूर बगीचा या फिर जशपुर से आती है। ऐसे में ग्रामीण शव को सड़क किनारे रखकर बगीचा से शव वाहन आने का इंतजार करते रहे। इसके बाद 50 किलोमीटर दूर बगीचा से शव वाहन आया। फिर परिजन 50 किलोमीटर की दूरी तय कर वहां गए। इसके बाद पोस्टमॉर्टम के बाद फिर वापस सन्ना गांव 50 किलोमीटर आए। तब कहीं जाकर बुधवार शाम को अंतिम संस्कार किया जा सका। इधर बगीचा ब्लॉक में भी पोस्टमॉर्टम के लिए एक ही डॉक्टर है, इसलिए जरूरत पड़ने पर भी वो सन्ना नहीं आ सकते।

CMHO जशपुर डॉ रंजीत टोप्पो ने कहा कि बगीचा ब्लॉक में एक ही डॉक्टर होने के कारण ऐसी स्थिति बनी है। शव को बगीचा ले जाने और वापस लाने के लिए विभाग की ओर से एंबुलेंस उपलब्ध कराया गया। इधर परिजनों ने कहा कि रामचंद को मिरगी की भी बीमारी थी। उन्होंने आशंका जताई कि तालाब में नहाने के दौरान उसे मिरगी का दौरा पड़ा होगा और इसलिए उसकी डूबकर मौत हो गई। अब पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत की सही वजहों का पता चलेगा।

सन्ना को तहसील घोषित किए हुए दो साल से अधिक समय हो चुका है, लेकिन यहां एक तहसीलदार की पदस्थापना के अलावा और कोई सुविधा नहीं दी गई है। यहां तक कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का बोर्ड तो टांग दिया गया है, लेकिन चिकित्सकों की नियुक्ति नहीं हो पाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page