Indian News : छ्त्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में ट्रेन से कटकर एक महिला की मौत हो गई है। महिला के शरीर के चिथड़े उड़ गए हैं। पैर, सिर समेत अन्य अंग शरीर से अलग हो गए हैं। बताया जा रहा है कि, महिला रसोइया संघ के हड़ताल में शामिल होने के लिए दंतेवाड़ा जिला मुख्यालय आई थी। फिर, लकड़ी लेने जंगल चली गई। इसी दौरान हादसा हुआ है। मामला सिटी कोतवाली क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, हादसा गुरुवार की देर शाम का है। कटेकल्याण ब्लॉक के चिकपाल की रहने वाली महिला दिनभर रसोइया संघ की हड़ताल में थी। फिर देर शाम को हड़ताल पर ही बैठीं 3 से 4 महिलाओं के साथ लकड़ी लेने के लिए रेलवे ट्रैक पार कर जंगल चली गई। लौटते समय महिलाएं नदी पर बने रेलवे ब्रिज के ऊपर से आ रही थी। इसी बीच ट्रेन भी पहुंच गई।

सभी महिलाएं हड़बड़ा कर भाग गई और अपनी जान बचा ली। लेकिन, एक महिला ट्रेन की चपेट में आ गई। महिला के शरीर के चिथड़े उड़ गए। सिर, पैर शरीर से अलग हो गया है। इस हादसे की सूचना अन्य महिलाओं ने रसोइया संघ के पदाधिकारियों को दी। जिन्होंने सिटी कोतवाली के जवानों को हादसे के बारे में बताया। फिर देर शाम जवान पहुंचे। जिन्होंने शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल लाया है।

पुलिस बोली-परिजन  रहे फिर नाम बता पाएंगे

इधर, इस मामले में दंतेवाड़ा सिटी कोतवाली के पुलिस अफसरों का कहना है कि जिस महिला की मौत हुई है उसके साथ जो महिलाएं थी उन्होंने मृतिका का नाम सोमड़ी बताया है। हालांकि, अभी यह नाम स्पष्ट नहीं है। परिजनों को बुलाया गया है। वे आएंगे तब नाम और उम्र की जानकारी मिल पाएगी। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

इससे पहले भी हो चुके हैं हादसे

दरअसल, किरंदुल-विशाखापट्टनम रेलवे लाइन पर जिस जगह यह हादसा हुआ है, वहां पहले भी कई हादसे हो चुके हैं। कुछ साल पहले भी ब्रिज पार करते समय 4 से 5 महिलाएं ट्रेन की चपेट में आकर कट गई थी। कुछ महिलाओं के शव ब्रिज के नीचे पानी में मिले थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page