Indian News :  राजधानी में पुलिस (police) की मार से आज एक युवक जिंदगी और मौत से जूझ रहा है। मामला गोलबाजार थाना क्षेत्र (Golbazar Police Station Area)का है जहां सुबह 5 बजे संडे मार्केट में खरीदारी करने गए एक परिवार पर चोरी के संदेह से पकड़ने गए पुलिस जवान (police personnel)ने डंडे से ऐसा वॉर किया कि वह मौत के दरवाजे पर आ खड़ा का है। युवक की पत्नी ने प्रेस वार्ता लेकर पुलिस कर्मियों पर बड़ा आरोप लगाया है।

गोलबाजार थाने में पुलिस की मार से एक युवक जिंदगी और मौत से लड़ रहा है। ग्राम तर्रा की रहने वाली गीता यादव ने गोलबाजार पुलिस पर बड़ा आरोप लगाया है। उसका कहना है कि पुलिस जवानों द्वारा उसके पति संजय यादव को बेहरहमी से पीटा गया जिसके चलते वह अधमरे हालात हॉस्पिटल में भर्ती है।

प्रार्थिया ने बताया कि वह अपने पति और तीन बच्चों के साथ संडे मार्केट जिसे चोर बाजार भी कहते है वहां खरीदारी करने आये हुए थे। इसी दौरान सदर बाजार के पास दो पुलिस कर्मियों ने उन्हें रोक लिया और चोरी का इंजाम लगाते हुए उसके पति के साथ मारपीट शुरू कर दी, जिससे उसके पति के सिर से खून निकलने लगा बाद में प्रार्थिया को थाने आने का कह कर उसके पति को ले गए। थाने जाने पर पता चला कि उसके पति को अंबेडकर हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। अंबेडकर जाकर पता चला कि उसके पति को मिर्गी की वजह से लाया गया है।

बाद में उसे डीकेएस हॉस्पिटल भर्ती करा दिया गया। रिपोर्ट में मिर्गी होना भी गलत पाया गया है। तो वही महिला ने बताया कि जब उसने थाना प्रभारी से अपने पति के बारे पूछा तो टीआई साहब पुलिस का नाम बदनाम करने से मना करते हुए महिला को 5 हजार रुपये दे दिए और कहने लगे कि कोई पूछे तो कहे कि गाड़ी से गिर कर चोट लगी है। वही पुलिस की माने तो युवक चोरी कर रहा था उसे पकड़ कर थाने लेन के दौरान वह गाड़ी से कूद गया जिससे उसके सिर में चोट आ गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page