Indian News : कोरबा जिले के रजगामार चौकी क्षेत्र में बुधवार शाम एक युवक की कुल्हाड़ी मारकर हत्या कर दी गई। युवक आंछिमार गांव में अपने घर से महज 25 मीटर की दूरी पर खून से लथपथ मिला था। परिवार वाले उसे लेकर मेडिकल कॉलेज अस्पताल के लिए निकले, लेकिन रास्ते में उसने दम तोड़ दिया।

रामपुर चौकी पुलिस प्रभारी कृष्णा साहू ने बताया कि बाबूलाल कंवर का अपने पड़ोसी रामाधार से बिजली चोरी को लेकर विवाद हुआ था। परिवार ने हत्या का शक रामाधार पर जताया है। फिलहाल आरोपी को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ की जा रही है। उन्होंने कहा कि बाबूलाल मजदूरी का काम करता था।

वहीं मृतक के ससुर हेम सिंह ने बताया कि उसका दामाद बाबूलाल कंवर और उसकी बेटी गंगा बाई अपनी 3 बच्चियों के साथ आंछिमार गांव में ही अलग घर में रहते हैं। बाबूलाल के माता-पिता का घर सतरेंगा में है, लेकिन आंछिमार से कोरबा नजदीक पड़ता है, इसलिए वो यहीं रहता है। ससुर ने बताया कि उसके घर के पीछे एक बिजली का खंभा है, उसमें से पड़ोसी रामाधार हुकिंग के जरिए बिजली चोरी करता है। बिजली पोल में छेड़छाड़ के कारण बाबूलाल के घर में बार-बार लाइट आ-जा रही थी। इसी बात को लेकर दोनों में विवाद हो गया था।

मृतक के ससुर ने बताया कि बाद में बुधवार शाम बाबूलाल अपने साढू भाई के यहां दशगात्र कार्यक्रम में शामिल होने उसके घर जा रहा था। इसी दौरान उस पर हमला हुआ। वहां से गुजर रही महिलाओं ने घर पर बाबूलाल के खून से लथपथ होने की जानकारी दी, तब वो और उसकी बेटी मौके पर पहुंचे। दामाद को अस्पताल ले ही जा रहे थे कि रास्ते में उसने दम तोड़ दिया। उन्होंने कहा कि उन्हें पूरा यकीन है कि रामाधार ने ही दामाद की हत्या की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page