Indian News : कम उम्र में लिव इन रिलेशनशिप के मायनों से अंजान युवा गलतफहमियों में पड़कर अपराध कर रहे हैं। जिंदगियां बर्बाद कर रहे हैं। ऐसा ही एक मामला चान्हो के चलियो खक्सीटोली में सोमवार सुबह 9 बजे हुई। दूसरे युवक से सिर्फ बात करने पर नाराज प्रेमी राजू उरांव ने प्रेमिका खुशबू (22) के सीने में गोली उतार दी। वह भी उसके घर में घुसकर। दोनों चान्हो के शहनाई टोली में एक साल से लिव इन रिलेशन में रह रहे थे। हालांकि इनके बीच तीन साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। करम पर्व के दिन आपसी कहा-सुनी के बाद खुशबू नाराज होकर अपने घर में रही थी।

खुशबू जवरा उरांव की एकलौती बेटी थी। वारदात में वक्त जवरा पत्नी संग रांची गए थे। इधर, घटना की सूचना मिलने के बाद खलारी डीएसपी अनिमेष नैथानी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और पूरे मामले की जानकारी ली। इसके बाद संभावित ठिकानों पर छापेमारी करते हुए फरार राजू को देर शाम गिरफ्तार कर लिया। साथ ही हत्या में प्रयुक्त हथियार और बाइक भी जब्त कर लिए।

‘नई जाबऊ’ कहते ही खुशबू के सीने में राजू ने उतार दी गोली

पुलिस के अनुसार, आरोपी राजू का घर खुशबू के घर से करीब 3 किमी दूर शहनाई टोली में है। पूछताछ में राजू ने बताया कि खुशबू किसी दूसरे लड़के से भी बात करती थी। इसे लेकर वह कई बार नाराजगी भी जता चुका था। करम पर्व के दिन दोनों के बीच मेला जाने की बात पर कहा-सुनी हो गई। नाराज होकर खुशबू अपने घर आ गई और मां-बाप के साथ रह रही थी।

सोमवार सुबह करीब 9 बजे वह अपने एक दोस्त के साथ खुशबू के घर पहुंचा। सादरी भाषा में बोला- चल घर। इस पर खुशबू बोली- नई जाबऊ। यह सुनते ही राजू उसे घसीट कर अंदर ले गया और पिस्टल निकालकर सीने में गोली दाग दी। इसके बाद दोस्त के साथ बाइक से फरार हो गया।

3 भाई-बहनों में सबसे बड़ी थी खुशबू राजू और खुशबू के रिश्ते को गांव के सभी लोग जानते थे। खुशबू तीन भाई बहनों में सबसे बड़ी थी। उसके पिता जवरा उरांव राजमिस्त्री का काम करते थे। वे पत्नी संग रांची गए थे। बड़ा भाई छोटू रांची में पढ़ाई करता है, जबकि छोटा भाई घर में रहता है।

एक्सपर्ट व्यू- कम उम्र में लिव इन से सपोर्ट सिस्टम खत्म, इसलिए वारदात

“आदिवासी समाज में लिव इन रिलेशन वर्षों से मौजूद है। आज कम उम्र के लड़के-लड़कियां लिव इन रिलेशन में रह रहे हैं। एक-दूसरे को समझ नहीं पा रहे। घर का सपोर्ट सिस्टम खत्म हो गया हो गया है। इमोशन खत्म होता जा रहा है। यहीं कारण है कि छोटी बातों में भी आपस में उलझ जाते हैं। चान्हो की घटना इसी का परिणाम है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page