Yogi-indian-news-

Indian News : गोरखपुर में अमृत लाल भारती के घर पर पहुंचे सीएम योगी ने उनके यहां बनी ख‍िचड़ी खाई. अमृत लाल गोरखपुर के मानबेला के पीरू शहीद मुहल्ले में रहते हैं. वह नगर निगम के कर्मचारी भी हैं. शुक्रवार को दोपहर के समय जब योगी आद‍ित्‍यनाथ अमृत लाल भारती के आवास पर आए तो उन्हें देखने और उनसे मिलने काफी भीड़ इकट्ठा थी.

makar sankranti 2022: गोरखपुर. योगी आद‍ित्‍यनाथ (योगी आदित्यनाथ) जहां एक तरफ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर अपनी जिम्मेदारियों का जुटकर निर्वहन करते हैं, वहीं वे गोरक्षपीठाधीश्‍वर के तौर पर गोरक्षपीठ की परंपराओं का पालन करने से भी कभी नहीं चूकते. आज इसी का पालन करते हुए उन्होंने गोरखपुर मंद‍िर की मकर संक्रांति पर्व की करीब 40 वर्ष पुरानी सामाजिक समरसता की उस परंपरा को निभाया, जिसमें पीठ की गद्दी पर बैठने महंत को प्रत्येक मकर संक्रांति के अवसर पर दलित के घर खिचड़ी खाना होती है.

आज सीएम योगी गोरखपुर में अमृत लाल भारती के घर पर पहुंचे और उनके यहां बनी ख‍िचड़ी खाई. अमृत लाल गोरखपुर के मानबेला के पीरू शहीद मुहल्ले में रहते हैं. वह नगर निगम के कर्मचारी भी हैं. शुक्रवार को दोपहर के समय जब योगी आद‍ित्‍यनाथ अमृत लाल भारती के घर पर आए तो उन्हें देखने और उनसे मिलने काफी बड़ी मात्रा मे भीड़ इकट्ठा थी. लोगों में सीएम योगी के आने को लेकर काफी उत्साह था. छतों पर भी लोगों का जमघट लगा हुआ था. उनके आगमन का कार्यक्रम पूर्व निर्धारित था तो अमृत लाल के घर पर खिचड़ी, दही, सब्जी, पापड़ आदि खाद्य सामग्री पहले से ही बन गई थी. मुख्यमंत्री आते से ही अमृत लाल से मिले और उनके यहां बनीं खिचड़ी खाई. चूंकि यहां सीएम को आना था तो इंतजाम भी बाड़िया थे. बस्ती को पूरी तरह साफ सुथरा कर दिया गया था. सुबह से ही इसकी तैयारियां चल रही थीं. अमृत लाल के बारे में जानकारी है कि वे भाजपा के पुराने कार्यकर्ता हैं और गोरखनाथ मंदिर से भी वे काफ़ी समय से जुड़े रहे हैं.

40 वर्ष से ही चल रही है ये परंपरा

गोरक्षपीठाधीश्‍वर द्वारा दलित के घर खिचड़ी खाने की इस परंपरा को करीब 40 वर्ष पुराना बताया जा रहा है. सीएम पूर्व में भी इस तरह की सभी परंपराओं को निभाते रहे हैं. योगी से पहले ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ गोरक्षपीठाधीश्‍वर के तौर पर इस परंपरा का निर्वहन करते थे. खुद मुख्यमंत्री ने अपनी इस परंपरा को निभाने की जानकारी ट्विटर पर शेयर करके दी. उन्होंंने लिखा सामाजिक समरसता का ध्येय लिए सतत बढ़ते जाना है. आज गोरखपुर स्थित झुंगिया में श्री अमृत लाल भारती के घर खिचड़ी का प्रसाद ग्रहण करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ. भारती जी का आभार एवं हार्दिक धन्यवाद!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page