Indian News : दिल्ली । राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) और उससे जुड़े लिंक पर देशभर में छापेमारी की है. टेरर फंडिंग और कैम्प चलाने के मामले में जांच एजेंसी ने छापा मारा है. बीते कुछ दिनों में एनआईए ने इस मामले में एक दर्जन से अधिक केस दर्ज किए हैं, जिसमें पीएफआई का लिंक मिला है. इससे जुड़े 100 लोगों को एजेंसी ने हिरासत में लिया है,

केंद्रीय जांच एजेंसियों ने PFI पर बड़ी कार्रवाई करते हुए उससे जुड़े ठिकानों पर राष्ट्रीय जांच एजेंसी, प्रवर्तन निदेशालय और राज्य पुलिस की ओर से 10 राज्यों में यह कार्रवाई की जा रही है. छापेमारी के दौरान 10 राज्यों में 100 से ज्यादा PFI के कैडर की गिरफ्तारी हुई है. एजेंसियों की ओर से की गई गिरफ्तारियों में से ज्यादातर उन लोगों को पकड़ा गया है जो छापेमारी के दौरान स्पॉट के आसपास धरना प्रदर्शन कर रहे थे और ये सभी PFI के सदस्य हैं.

सूत्रों ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि एनआईए और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारी आधी रात से ही पीएफआई नेताओं के घरों पर छापेमारी कर रहे हैं, जिसमें मलप्पुरम जिले के मंजेरी में पीएफआई अध्यक्ष ओएमए सलाम का घर और पीएफआई ऑफिस भी शामिल है. छापेमारी के दौरान पीएफआई कार्यकर्ताओं ने मलप्पुरम में ओएमए सलाम के घर के बाहर धरना-प्रदर्शन भी किया.

पिछले दिनों 18 सितंबर को, राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए ने आंध्र प्रदेश के कई जिलों में कई स्थानों पर छापेमारी की थी और पीएफआई के सदस्यों को हिंसा भड़काने तथा अवैध गतिविधियों के सिलसिले में पूछताछ के लिए उठाया भी गया था. अधिकारियों ने तेलंगाना के निजामाबाद जिले में एक घर पर भी छापा मारा और हैदराबाद में एनआईए ऑफिस का दौरा करने वाले एक व्यक्ति को नोटिस जारी किया. एनआईए अधिकारियों की 23 टीमों ने एक साथ निजामाबाद, कुरनूल, गुंटूर और नेल्लोर जिलों में तलाशी ली थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page