Indian News : थाने में शिकायत दर्ज नहीं होने से परेशान युवक ने कोटा के नयापुरा थाने में खुद को आग लगा ली। इससे पूरे इलाके में हड़कंप मच गया। जैसे-तैसे पुलिसकर्मियों ने कंबल डालकर उसकी आग बुझाई। उसे एमबीएस हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।

युवक का नाम राधेश्याम मीणा है। वह नयापुरा इलाके का ही रहने वाला है। पिछली 5 सितंबर को पार्षद के खिलाफ थाने में शिकायत देकर गया था। उसकी रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई। वो बार-बार थाने के चक्कर लगा रहा था। परेशान होकर गुरुवार रात करीब आठ बजे वह पेट्रोल लेकर थाने में घुस गया और खुद को आग लगा ली। उधर, पुलिस का दावा है कि आग लगाने के बाद वह थाना परिसर में घुसा है। थाने में मौजूद कॉन्स्टेबल श्यामसुंदर और परमेश्वर ने कंबल डालकर आग बुझाई।

राधेश्याम 40 से 45 प्रतिशत झुलसा है। उसकी पीठ, गर्दन, सिर व चेस्ट में आग लगी थी। एमबीएस हॉस्पिटल के बर्न वार्ड के बाहर पुलिस का जाब्ता तैनात किया गया है। फिलहाल पुलिस अधिकारी कुछ भी कहने से बच रहे हैं। उधर, देर रात परिवार वालों ने एमबीएस हॉस्पिटल में हंगामा भी किया।

परिचित संजय सुमन ने बताया कि राधेश्याम का वार्ड नंबर 66 के पार्षद हरिओम से वॉट्सऐप मैसेज को लेकर विवाद हुआ था। राधेश्याम ने वॉट्सऐप के एक ग्रुप में मैसेज किया था। इसके बाद एक बार राधेश्याम ने खुद बताया था कि पार्षद और उसके लोगों ने उसकी पत्नी और उसके साथ मारपीट की थी। फिर जब वह मामला लेकर थाने गया तो पुलिस वालों ने भी मिसबिहेव किया। उसे कई दिनों से परेशान किया जा रहा था।

संजय सुमन के मुताबिक, राधेश्याम ने गुरुवार सुबह ही उसे बताया था कि वह खुद को थाने के बाहर आज पेट्रोल से आग लगा लेगा। लेकिन वह उसकी बात को हल्के में ले गए। राधेश्याम मीणा नयापुरा के खंड गावड़ी का रहने वाला है और पेशे से ड्राइवर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page