Indian News : रायपुर | रायपुर के बहु चर्चित रामावतार जग्गी (तारु जग्गी) हत्याकांड का फैसला गुरुवार को न्यायालय ने सुना दिया है, इसमें सभी नामजद 27 लोगों को सजा सुनाई गई है।

Read More>>>BJP प्रत्याशी सरोज पांडेय ने चरणदास महंत के विवादित भाषण पर किया पलटवार

न्यायालय ने हत्याकांड का मुख्य आरोपी वर्तमान महापौर एजाज ढेबर के बड़े भाई याहया ढेबर को बताया है । जिसके साथ तत्कालीन सीएसपी गिल क्राइम ब्रांच के प्रभारी त्रिवेदी सहित इस केस में शामिल सभी आरोपी को उम्र कैद की सजा सुनाई गई है | छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने अपने अहम फैसले में NCP नेता रामावतार जग्गी मर्डर केस के 27 दोषियों की अपील को खारिज कर दिया है ।

जस्टिस रमेश सिन्हा और जस्टिस अरविंद वर्मा की डिवीजन बेंच ने उम्र कैद की सजा को बरकरार रखा है । आपको बता दें, 2003 में मौदहा पारा में रामावतार जग्गी की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी । जिसके आरोप में उम्रकैद की सजा पाने वालों में 2 तत्कालीन CSP और एक तत्कालीन थाना प्रभारी के अलावा याहया ढेबर और शूटर चिमन सिंह शामिल है ।

@indiannewsmpcg

Indian News

7415984153

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page